मैती मिलन कार्यक्रम मे उमड़ी लोगो की भीड़, राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष कुसुम कंडवाल ने की शिरकत

Uk live
0

Team uklive


टिहरी गढ़वाल 19 जून । मंगलवार को टिहरी के गणेश चौक पर उमड़ी भीड़ ने मैती मिलन कार्यक्रम की सफलता पर चारचांद लगा दिए। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष  कुसुम कडवाल भी इतनी बड़ी संख्या में पहुंची दीदी- भूलियों, बेटियों को देख गदगद हो गई। उन्होंने कार्यक्रम की सराहना की और इसे एक अनोखा और सराहनीय प्रयास बताया। 


श्रीमती कंडवाल ने कहा की जून के महीने में जब बच्चों की छुट्टियाँ होती हैं, तो महिलाएँ अपने मायके आती हैं। ऐसे समय में मैती मिलन कार्यक्रम के माध्यम से दीदी भूलियों और बेटियों का मिलन एक अद्वितीय पहल है। 

श्रीमती कंडवाल ने भावुक होकर कहा, “मुझे भी आज यहाँ अपने मायके आने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। मेरा मायका कीर्तिनगर टिहरी गढ़वाल में है, और आज मुझे यहां (मायके) बुलाया गया है। इस कार्यक्रम के लिए मुझे कल ही निमंत्रण भेजा गया था। इसके लिए मैं मैती मिलन परिवार का हृदय से आभार व्यक्त करती हूँ।” उन्होंने अपने गढ़वाली होने पर गर्व महसूस करते हुए कहा कि यह परंपरा पुरानी रीति-रिवाजों को जिंदा रखने का एक अच्छा प्रयास है।

पुरानी संस्कृति को जिंदा रखने का प्रयास

श्रीमती कंडवाल ने कहा, “हमें अपनी रीति-रिवाजों को नहीं भूलना चाहिए। यह कार्यक्रम उन्हें संजोने और जिंदा रखने का एक अच्छा माध्यम है। मैं उम्मीद करती हूँ कि इस प्रकार की परंपरा आगे भी जारी रहेगी।” उन्होंने आग्रह किया कि भविष्य में भी ऐसे कार्यक्रम आयोजित करते रहें।

कार्यक्रम की अध्यक्षता और सम्मान समारोह

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे टिहरी विधायक किशोर उपाध्याय ने भी मैती मिलन परिवार का आभार व्यक्त किया। उन्होंने श्रीमती कंडवाल को पुष्प गुच्छ और स्मृति चिन्ह भेंट कर उनका सम्मान किया और शुभकामनाएं दी। मैती। मिलन परिवार की ओर से उन्हें कलेऊ व दक्षिणा देकर ससम्मान विदा किया गया ।

कार्यक्रम संयोजक अनुसुया नौटियाल ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। उन्होंने बताया कि मैती मिलन मेला लगातार तीसरी बार आयोजित किया गया है और हर साल ध्य्याणियों की संख्या में लगातार वृद्धि होना अच्छी बात है। नौटियाल ने बताया कि मेले का मुख्य उद्देश्य सांस्कृतिक धरोहर को संजोकर रखना और आपसी मिलन के लिए एक मंच प्रदान करना है।

कार्यक्रम में खेम सिंह चौहान, सुंदरलाल उनियाल, महिमानंद नौटियाल, कमल सिंह मैहर, सुषमा उनियाल, अनीता कण्डियाल, रागिनी भट्ट, उर्मिला राणा, जनवीर राणा, डॉक्टर उम्मेद सिंह नेगी, श्रीमती विद्या नेगी, वीसी नौटियाल,  समेत अन्य गणमान्य व्यक्ति और बड़ी संख्या में दीदी-भुली और बच्चे मौजूद रहे।

सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम

इस मौके पर विभिन्न रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इन प्रस्तुतियों ने दर्शकों को झूमने को मजबूर कर दिया और कार्यक्रम को यादगार बना दिया। कार्यक्रम का कुशल संचालन श्री सतीश थपलियाल ने किया।

” बताते चलें कि यह कार्यक्रम स्वदेशी जागरण मंच और अनुसूया देवी विकास समिति द्वारा आयोजित किया गया। मैती मिलन कार्यक्रम ने अपनी जड़ों से जुड़ने और पुरानी संस्कृति को संजोने का संदेश दिया, जिसे सभी उपस्थित लोगों ने सराहा और आनंद लिया। “


एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !