अमेरिकन दुल्हन ने गढ़वाली दूल्हे से गढ़वाली रीती रीवाज मे की शादी

 Team uklive



चम्बा :प्यार की कोई जाति, भाषा, सरहद नही होती ये बात जगजाहिर है. 


अमेरिका की रहने वाली डॉक्टर फ्रेंचस्का भी यही सोचा करती थीं, और जब बात अपने प्यार को अपनाने की आई तो वो सात समंदर पार कर भारत के उत्तराखंड चली आईं और यहां रहने वाले हिंदू युवक से शादी रचा ली। टिहरी के चंबा में सैकड़ों लोगों की मौजूदगी में दोनों ने सात फेरे लिए.
 सात जन्म तक साथ निभाने की कसमें खाईं। फ्रेंचस्का अमेरिका में डॉक्टर हैं। उनका विवाह चंबा ब्लॉक के आराकोट में रहने वाले विकास से हुआ है। दोनों ने 16 नवंबर को उत्तराखंडी रीति-रिवाज से शादी की।
 दूल्हे के परिजनों ने बताया कि अमेरिका की रहने वाली फ्रेंचस्का भारतीय संस्कृति से बेहद प्रभावित हैं।
यही वजह है कि जब विवाह की बात आई तो उन्होंने भारत में रहने वाले विकास संग विवाह बंधन में बंधने का फैसला लिया। रिश्ते के दौरान कई बार भाषा संबंधी दिक्कतें आईं तो कभी लगा की दोनों देशों की संस्कृति अलग है, लेकिन फ्रेंचस्का और विकास एक-दूसरे की ढाल बने रहे। दोनों ने अपने रिश्ते को बनाए रखने और सबका प्यार हासिल करने के लिए मन से प्रयास किए। 16 नवंबर को दोनों ने सबके प्यार और आशीर्वाद से एक-दूसरे का हाथ थाम लिया। विकास और फ्रेंचस्का विवाह के बाद अमेरिका लौट गए। दोनों का विवाह टिहरी क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। विवाह की तस्वीरें और वीडियो भी सामने आए हैं, जिनमें फ्रेंचस्का और विकास के बीच जबर्दस्त बॉंडिंग देखने को मिली। सोशल मीडिया पर विकास और उनकी दुल्हन फ्रेंचस्का की तस्वीरें खूब वायरल हो रही हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: